Ritesh Pandey- जोताई नहीं दुंगी - Jotai Nahi Dungi lyrics

Ritesh Pandey- जोताई नहीं दुंगी - Jotai Nahi Dungi - Ritesh Pandey Lyrics

 


Singer Ritesh Pandey
Music Ashish Verma
Song Writer J D Bahadur

अरे ऐ ट्रेक्टर वाले !

ओ हो ! सुनबो नहीं करता है भक !

अरे ऐ ट्रेक्टर वाले

ह ! ह ! का ह !

अरे इधर सुनिए ना

अरे ! का काम है ?

अरे जोतने के लिए बुला रहे है

ह ! ह ! त जोत देंगे |

अरे आईयेगा तब न !

देखिये यही खेत है , यही आपको जोतना है

लेकिन देखिये भाभी जी

सुबेरे का टाइम है , अभी बोहनी नहीं हुआ है

ओहो ! कईसन ट्रेक्टर वाला है

जोताई किया नहीं , आ पहिले पईसा मांग रहा है

अरे तऽ ! कवनो बात नाही

जोतत हई न !

हां ! हां ! ल भउजाई तोहार जोताई हो गईल

चलऽ पईसा निकालऽ

अरे ! यही खेत आप जोते है

अइसही जोताई होता है

अरे ! तऽ आपन खेतवा ना देखत हउ

त कान खोल के सुन ल

एक पईसा ना मिली

अरे ! बाप रे बाप

इ त गजबे बतियावत हउ हो

काम करवले के बाद कहत हऊ पइसवे ना देब

कहले रही की बोहनी मत बिगड़िहऽ

पईसा – पईसा भूल जाओ , एको नहीं देंगे

अईसे कईसे भूल जाये

ऐ तरको मत ! सुनो

मीठा – मीठा बोल के तू मुझको फँसाया

अरे फार नाही अंदर ले तनिको धँसाया

अरे सब बुझते है ! खाली ऊपरे ऊपर खजुआ दिया

हमार इहा ट्रेक्टर गरम हो गईल तोहार अभी ले खजुआते ह

मीठा – मीठा बोल के तू मुझको फँसाया

फार नाही अंदर ले तनिको धँसाया

खेत मेरा जोता है कईसा

अच्छा !

खेत मेरा जोता है कईसा जोताई नहीं दूंगी एक पईसा

अरे इ त गजबे बतियावत हऊ हो

करवा के ! आ जब काम निकल गईल त गुंडई करत हऊ

ह बड़ा निक कई देले हवऽ तू

अघवा देले बाड़ऽ हमरा के सबेरे सबेरे

माथा खराब मत करऽ

इधर सुनऽ

इहाँ हम खेत जोते आईल रहनी हऽ

कबारे ना

सुनऽ हई

ह सुनावऽ

मैंने सफाई का लिया नहीं ठेका

अतना खराब मैंने खेत नहीं देखा

मैंने सफाई का लिया नहीं ठेका

अतना खराब मैंने खेत नहीं देखा

घास जमी जंगल के जईसे

अरे ! हमरा से निक केहू के नईखे

घास जमी जंगल के जईसे

जोताई कोई करेगा कईसे

[म्यूजिक..]

अरे तुमको दिमाग उमाग नहीं है

पता है घास कहाँ जमता है

घास परती में जमता है , अउर कहाँ जमता है

आ खेतवा में ?

खेतवा में गेहूं , धान , बाजड़ा , मकई अउर का

साफ दिमाग के ढीला है

मेरी सुनो

कारन एमे कोई दूसर नहीं है

खेत उपजाऊ है ऊसर नहीं है

अरे घास कहाँ से रहेगा ?

केतना अहिराने का भईसा चरता है

अरे गलती मेरी है की तुमसे जोतवाया

कारन एमे कोई दूसर नहीं है

खेत उपजाऊ है ऊसर नहीं है

जोता नहीं यादव जी के जईसा

तुम ही अकेले जोतने वाले नहीं हो

हम बहुत लोगो से जोतवाये है

अरे यादव जी का ट्रेक्टर तो पुरे कबार के रख देता है

जोता नहीं यादव जी के जईसा

जोताई नहीं दूंगी एक पईसा

[म्यूजिक..]

अरे अब क्या बताये

तुम तो बहुते झगड़ालू हो

आ ओहु से बेसी चालू हो

हम तो पछता रहे है तुम्हारा खेत जोत कर

हमारा तो सुनती नहीं हो

हाँ ! सुनाओ

केतनो धसाऊ मैं फार नहीं धँसता

बेरी – बेरी घास एहि फरवे में फँसता

हमारी बात सुनो

केतनो धसाऊ मैं फार नहीं धँसता

बेरी – बेरी घास एहि फरवे में फँसता

परती जो राखोगी अईसे

अपना भी गलती माना करो

गलती त मानिये न लिए है

जोतवा के त हम गलते न कर दिए है

परती जो राखोगी अईसे जोताई कोई करेगा कईसे

[म्यूजिक..]

हमरा भीरी जेतना बतियाते हो न

अपनों में सुधार लाओ

अरे ! त जब बोहनिये में उधार हो गया


Post a comment

0 Comments